Public Haryana News Logo

Chandrayaan 3: चंद्रयान 3 को लेकर जगतगुरु रामभद्राचार्य ने की बड़ी भविष्यवाणी, पंडित धीरेंद्र शास्त्री हैं गुरु जी चेले

 | 
Chandrayaan 3: चंद्रयान 3 को लेकर जगतगुरु रामभद्राचार्य ने की बड़ी भविष्यवाणी, पंडित धीरेंद्र शास्त्री हैं गुरु जी चेले 

Chandrayaan 3 Prediction: चंद्रयान 3 पर पूरी दुनिया की नजर है। तो वहीं जगतगुरु रामभद्राचार्य ने इसे लेकर एक बड़ी भविष्यवाणी की है. उन्होंने कहा कि विज्ञान और अध्यात्म का अनूठा संगम सफल होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि मिशन चंद्रयान-3 सफल होगा. जगतगुरु रामभद्राचार्य बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र शास्त्री के गुरु हैं।

कौन हैं जगतगुरु रामभद्राचार्य?

गुरु रामभद्राचार्य पंडित धीरेंद्र शास्त्री के गुरु हैं। उन्होंने चित्रकूट में तुलसी पीठ की स्थापना की थी। 2 महीने की उम्र में उनकी आंखों की रोशनी चली गई थी। हालाँकि, पहले वे रामकथा वाचक के रूप में लोकप्रिय थे। 2 महीने की उम्र से अपनी दृष्टि खोने के बाद, वह 22 भाषाओं में पारंगत है। इसके अलावा, उन्होंने 80 किताबें लिखी हैं।

धीरेंद्र शास्त्री का बचाव किया 

गुरु रामभद्राचार्य बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र शास्त्री के गुरु हैं। पिछले दिनों जब धीरेंद्र शास्त्री अपने चमत्कारों को लेकर विवादों में थे तो गुरु रामभद्राचार्य खुद उनके बचाव में सामने आए थे. उन्होंने कहा था कि कुछ लोग धीरेंद्र शास्त्री को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं.

जगद्गुरु रामभद्राचार्य को पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया है

जगद्गुरु रामभद्राचार्य का जन्म मकर संक्रांति के दिन यूपी के जौनपुर में एक सरयूपेरियन ब्राह्मण परिवार में हुआ था। 1950 में जन्मे जगद्गुरु रामभद्राचार्य ने दो महीने की उम्र में अपनी आंखों की रोशनी खो दी थी। उन्होंने चार साल की उम्र में कविताएँ लिखना शुरू कर दिया था। आपको जानकर हैरानी होगी कि महज 8 साल की उम्र में उन्होंने भागवत और राम कथा करना शुरू कर दिया था। उनकी उपलब्धियों के लिए उन्हें भारत सरकार द्वारा पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया है। अब देखना ये है कि चंद्रयान 3 को लेकर की गई भविष्यवाणी कितनी सच साबित होती है.

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here