Public Haryana News Logo

Prajwal Revanna Case: कार्रवाई तो कांग्रेस को करनी है... NDA उम्मीदवार के आपत्तिजनक वीडियो पर बोले अमित शाह

अमित शाह न्यूज़: कर्नाटक के एक प्रमुख उम्मीदवार प्रज्वल रेवन्ना पर सवाल उठ रहे हैं। वह विदेश में हैं. इधर, कांग्रेस भाजपा से जवाब मांग रही है। अब गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि कार्रवाई तो आपको करनी ही होगी, कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार है। उन्होंने ये भी कहा कि बीजेपी महिला शक्ति के साथ है. कठोर कार्रवाई होनी चाहिए.
 | 
Prajwal Revanna Case: कार्रवाई तो कांग्रेस को करनी है... NDA उम्मीदवार के आपत्तिजनक वीडियो पर बोले शाह
लोकसभा चुनाव: बहुमत उम्मीदवार प्रज्वल रेवन्ना काफी चर्चा में हैं। उनके कई फिल्मी वीडियो आए हैं, जिस पर कांग्रेस बीजेपी से सवाल कर रही है। प्रियंका गांधी से लेकर कई फ़्रांसीसी नेता भाजपा पर तंज कस रहे हैं। अब गृह मंत्री अमित शाह ने दिया जवाब. जेडीएस नेता प्रज्वल रेवन्ना के 'अश्लील वीडियो' पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, 'प्रज्वल रेवन्ना मामले पर बीजेपी का रुख बहुत साफ है. हम देश की मातृशक्ति के साथ हैं... मैं कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि वहां पर सरकार किसकी है?
सरकार कांग्रेस पार्टी की है. उन्होंने अब तक कोई कार्रवाई क्यों नहीं की? कार्रवाई हमें नहीं करनी है.'
शाह ने कहा कि यह राज्य की कानून व्यवस्था खत्म हो गई है, राज्य सरकार को इस पर कार्रवाई करनी होगी... हम जांच के पक्ष में हैं और हमारे सहयोगी जेडीएस ने भी इसके खिलाफ कार्रवाई की घोषणा की है। आज उनकी कोर कमेटी की बैठक और कदम बढ़ेंगे। दो दिन बाद खबर आई कि जेडीएस ने अपने सांसद प्रज्वल को डेट करने के लिए नोटिस जारी किया है। कई वीडियो क्लिप सामने आने के बाद आरोप लगे हैं कि प्रज्वल ने सैकड़ों महिलाओं का यौन शोषण किया है।

100 से ज्यादा सीटों के पार निकले...

असम के दौरे पर गए गृह मंत्री अमित शाह ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में दावा किया कि दो चरणों के लोकसभा चुनाव में पार्टी का आकलन कहता है कि एनडीए 100 सीटों से बहुत ज्यादा आगे निकल चुकी है. हम 400 पार के लक्ष्य की ओर आगे बढ़ रहे हैं. शुरुआती ट्रेंड के मुताबिक दक्षिण भारत में भी भाजपा को अच्छा रिस्पांस मिला है. 

शाह ने बताया, बहुमत का उपयोग कहां किया

शाह ने कहा कि कुछ दिन से कांग्रेस ने 400 पार के लक्ष्य को ट्विस्ट करना शुरू किया है. वे दावा कर रहे हैं कि संविधान बदलने के लिए यह लक्ष्य है. वे दुष्प्रचार कर रहे हैं कि 400 पार करने के बाद भाजपा आरक्षण समाप्त कर देगी. शाह ने कहा कि दोनों चीजें निराधार और तथ्यहीन हैं. भाजपा को पूर्ण बहुमत इस देश की जनता ने 2014 और 2019 में भी दिया. हम 10 साल से पूर्ण बहुमत में सरकार चला रहे हैं लेकिन हमने पूर्ण बहुमत का उपयोग कांग्रेस की तरफ इमर्जेंसी डालकर लोकतंत्र का गला घोंटने के लिए नहीं किया. इमर्जेंसी डालने के लिए लोकसभा का टर्म बढ़ाने के लिए, संविधान बदलने में नहीं किया. हमने पूर्ण बहुमत का उपयोग धारा 370 और तीन तलाक को समाप्त करने में किया. कोर्ट के आदेश के बाद हमारी सरकार ने राम मंदिर के निर्माण में भी जमीन तैयार करने में अपनी भूमिका निभाई. 

आरक्षण और मुसलमान

शाह ने कहा कि कांग्रेस झूठ फैला रही है. भाजपा एससी-एसटी, ओबीसी आरक्षण की समर्थक है और हमेशा इसके संरक्षक के रूप में अपनी भूमिका निभाएगी. शाह ने कहा कि कांग्रेस ने संयुक्त आंध्र प्रदेश में मुसलमानों को आरक्षण दिया. उससे ओबीसी का रिजर्वेशन कटा. उसके बाद कर्नाटक में रातोंरात बिना सर्वे किए बगैर सारे मुसलमानों को ओबीसी श्रेणी में डालकर उनके लिए 4 प्रतिशत का कोटा रिजर्व कर दिया. इससे भी पिछड़ा वर्ग का आरक्षण कटा है. भाजपा स्पष्ट रूप से मानती है कि धर्म के आधार पर आरक्षण गैर-संवैधानिक है और जब भी इन राज्यों में हमारे पास अधिकार आएगा, हम धर्म के आधार पर लादे गए आरक्षण को समाप्त करके SC/ST और OBC न्याय दिलाने का काम करेंगे.

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here