Public Haryana News Logo

विकसित भारत 2047: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिखाई विकसित भारत की झलक, ऐसे प्रगति पथ पर आगे बढ़ेगा देश

 | 
news, latest news, today news, breaking news, news headlines, bollywood news, India news, top news, political news, business news, technology news, sports news
 

PM Modi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को 'विकसित भारत@2047: युवाओं की आवाज' कार्यशाला को वर्चुअली संबोधित किया, इस दौरान उन्होंने राष्ट्र से प्रतिज्ञा लेने को कहा, "मैं जो कुछ भी करूंगा वह विकसित भारत के लिए होगा". आज कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ''विकसित भारत के संकल्पों को लेकर आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण है. मैं उन सभी राज्यपालों को विशेष रूप से बधाई देना चाहता हूं जिन्होंने विकसित भारत के निर्माण से संबंधित इस कार्यशाला का आयोजन किया है.”

क्या बोले पीएम मोदी 

प्रधानमंत्री ने कहा कि, “आज हर व्यक्ति, हर संस्था, हर संगठन को इस संकल्प के साथ आगे बढ़ना है कि मैं जो कुछ भी करूं वह विकसित भारत के लिए हो। आपके लक्ष्यों और आपके संकल्पों का ध्यान केवल विकसित भारत पर होना चाहिए.  ”

पीएम मोदी ने कहा कि ये ऐतिहासिक कालखंड है जब भारत लंबी छलांग लगाने जा रहा है. उन्होंने कहा कि ऐसे कई देशों के कुछ उदाहरण हैं जिन्होंने एक निश्चित समय में इतनी लंबी छलांग लगाकर खुद को विकसित किया है.

प्रधानमंत्री के मुताबिक, विकसित भारत के निर्माण का यह स्वर्णिम युग वैसा ही है जैसा लोग अक्सर परीक्षा के दिनों में देखते है. उन्होंने कहा "हमारे सामने 25 साल का अमृतकाल है. हमें इस अमृतकाल और लक्ष्यों के लिए चौबीसों घंटे काम करना है." 

“इसलिए मैं कहता हूं कि यह भारत के लिए सही समय है. हमें इस अमर समय के हर पल का लाभ उठाना है. विकसित भारत लॉन्च के मौके पर पीएम मोदी ने कहा, हमें एक पल भी नहीं गंवाना चाहिए. प्रधानमंत्री ने कहा कि एक मजबूत और सशक्त समाज तभी बनता है जब नागरिक देश के हित में सोचते हैं, जब वे देश के कल्याण के बारे में सोचते हैं. उन्होंने कहा, "समाज की मानसिकता किसी भी देश के प्रशासन और शासन की झलक तय करती है!"

पीएम मोदी का मानना ​​है कि 'जनभागीदारी' एक ऐसा मंत्र है जिसके जरिये बड़े से बड़े संकल्प भी पूरे किये जा सकते हैं. "चाहे 'डिजिटल इंडिया' हो, 'वोकल फॉर लोकल' हो या स्वच्छ भारत अभियान, हम सभी ने 'सबका प्रयास' की शक्ति देखी है!"

पीएम मोदी का दृष्टिकोण देश के लिए राष्ट्रीय योजनाओं, प्राथमिकताओं और लक्ष्यों के निर्माण में युवा पीढ़ी को सक्रिय रूप से शामिल करना है. कार्यशाला 2047 तक भारत को एक विकसित देश बनाने के लिए अपने विचारों और सुझावों को साझा करने के लिए युवाओं को शामिल करने की प्रक्रिया शुरू करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है.

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here