Public Haryana News Logo

सर्दियों में गर्भवती महिलाओं का आहार कैसा होना चाहिए? अपनी डाइट में जरूर शामिल करें 4 चीजें, मां और बच्चा दोनों रहेंगे स्वस्थ

 | 
ठंड में कैसा हो गर्भवतियों का आहार, 4 चीजों को डाइट में जरूर करें शामिल, जच्चा-बच्चा दोनों रहेंगे हेल्दी
 

Food for pregnancy in winter: मां बनने की उम्मीद करना हर महिला के जीवन का सबसे सुखद पहलू होता है. इसलिए जरूरी है कि प्रेग्नेंसी के दौरान खुद की सेहत का ठीक से ध्यान रखें. दरअसल, गर्भावस्था के दौरान कई वजहों से शारीरिक और मानसिक तनाव हो सकता है. इस तरह के शारीरिक परिवर्तन हार्मोनल परिवर्तनों के साथ मिलकर आपके शरीर पर भारी पड़ सकते हैं. वैसे तो गर्भवती महिलाओं को हर मौसम में अपना ख्याल रखना चाहिए, लेकिन ठंड में अधिक सतर्क रहने की जरूरत होती है. क्योंकि, सर्द मौसम सामान्य सर्दी, संक्रमण, खांसी और बुखार से जुड़ा होता है. इसके अलावा, सर्दी में चलने वाली ठंडी हवा से सूखापन या नमी की कमी भी एक बड़ा कारण है, जिससे सर्दी में अधिक सावधान रहने की जरूरत होती है.

दरअसल, सर्दियों में हमारा स्वास्थ्य अन्य मौसम की तुलना में अधिक संवेदनशील हो जाता है. ऐसे में त्वचा को हाइड्रेट रखकर इम्युनिटी लेवल को स्ट्रॉन्ग रखना बेहद जरूरी होता है. हालांकि, यह सब तभी संभव होगा, जब गर्भवती महिला पौष्टिक आहार ले. ऐसा करने से पेट में पल रहा शिशु भी स्वस्थ्य रहेगा. अब सवाल है कि आखिर गर्भवती महिलाओं का सर्दियों में आहार कैसा हो? गलत खान-पान स्वास्थ पर कैसे डालता है प्रभाव? इन सवालों के बारे में बता रही हैं गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज कन्नौज की गायनेकोलॉजिस्ट डॉ. अमृता साहा-

सर्दियों के लिए गर्भवती महिलाओं का पौष्टिक आहार

फल और सब्ज़ियां खाएं: सर्दियों के मौसम में गर्भवती महिलाओं को विटामिन सी से युक्त फल जैसे संतरा, सेब, केला का सेवन जरूर करना चाहिए. ये फल शरीर में इम्युनिटी बूस्ट करने का काम करते हैं. साथ ही ठंड में पालक, सलाद, पत्ता, फूलगोभी और हरी सब्जियों का भी सेवन करना चाहिए. ऐसा करने से मां और बच्चा दोनों हेल्दी रहेंगे.

उचित मात्रा में आयोडीन लें: गर्भावस्था के दौरान आयोडीन से युक्त चीजों को डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए. क्योंकि, आयोडीन की कमी आपके बच्चे के मानसिक विकास को प्रभावित कर सकती है. ऐसे में जरूरी है कि उचित मात्रा में अंडे, समुद्री भोजन, नमक आदि जरूर खाएं. ऐसा करने से जच्चा-बच्चा दोनों का स्वास्थ्य ठीक बना रहेगा.

खुद को हाइड्रेट रखें: ठंड में गर्भवती महिलाओं को हाइड्रेटेड रहना बेहद जरूरी होता है. इसके लिए जरूरी है कि अच्छी मात्रा में पानी पीएं. इसके अलावा, आप फलों और सब्जियों का ताजा रस, नींबू पानी, छाछ आदि का भी सेवन कर सकती हैं. ऐसा करने से आप खुद को बीमारियों से दूर रख पाएंगी.

कैल्शियम-फाइबर जरूरी: प्रग्नेंसी में हड्डियों की मजबूती के लिए कैल्शियम-फाइबर युक्त चीजों का सेवन जरूर करना चाहिए. इसके लिए आप डेयरी प्रोडक्ट, अनाज, दालों का डाइट में शामिल कर सकते हैं. दरअसल, ये चीजें तमाम पोषक तत्वों से भरपूर होती हैं. इसलिए नियमित डेयरी प्रोडक्ट की 3 से 4 सर्विंग्स लें. वहीं, फाइबर युक्त चीजें कब्ज से छुटकारा दिलाने का काम करती हैं.

ठंड में ये एहतियात जरूरी

– गर्भवती महिलाओं को फ्लू का टीका जरूर लगवाना चाहिए.
– अत्यधिक ठंड में घर के अंदर रहें और पर्याप्त ऊनी कपड़े पहनें.
– डाइट में पालक, अदरक, आंवला, बादाम, दही, लहसुन, दूध, शिमला मिर्च और ब्रोकोली शामिल करें.
– शुष्क सर्दियों की हवा से शरीर को अतिरिक्त पानी की आवश्यकता होती है. इसलिए पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं.
– हल्के व्यायाम जैसे चलना या सरल योग करें. ऐसा करने से आप और आपका बच्चा दोनों हेल्दी रहेंगे.

.

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here