Public Haryana News Logo

हरियाणा में परिवार की पहचान को ठीक करने का मौका मिलेगा, फिर लगेगा 3 दिन का कैंप

 | 
हरियाणा सरकार परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) में दर्ज त्रुटियों को ठीक करने के लिए पूरे राज्य में तीन दिवसीय अभियान चलाएगी।  इन त्रुटियों को दुरुस्त करने के लिए पूरे प्रदेश में 28, 29 व 30 अप्रैल को जिला स्तर पर शिविर आयोजित किए जाएंगे। जिलों में ग्राम स्तर पर भी शिविर आयोजित किए जाएंगे।   इन शिविरों के आयोजन की जिम्मेदारी जिला उपायुक्तों और अतिरिक्त जिला उपायुक्तों की होगी।  यदि संबंधित जिले के विधायक व जनप्रतिनिधि इन शिविरों में शामिल होना चाहते हैं तो यह उनकी इच्छा पर निर्भर करेगा।  मुख्यमंत्री मनोहर लाल के निर्देश पर परिवार पहचान पत्र में त्रुटि सुधार के लिए अभियान शुरू किया गया है.   पहले भी ऐसे कैंप लगाए गए थे जिनमें लाखों लोगों का डेटा ठीक किया गया था.  आपको बता दें कि फिर से शिविर इसलिए लग रहे हैं क्योंकि विपक्ष परिवार पहचान पत्र में गड़बड़ी को बड़ा मुद्दा बना रहा है.  जबकि परिवार पहचान पत्र योजना मुख्यमंत्री मनोहर लाल के दिल के बेहद करीब है।   हरियाणा परिवार पहचान पत्र योजना के तहत 14 अंकों के विशिष्ट पहचान पत्र का उद्देश्य नागरिक केंद्रित सेवाओं के वितरण में पारदर्शिता प्रदान करने के साथ-साथ भ्रष्टाचार को कम करना और राज्य के फर्जी लाभार्थियों का पता लगाना है।  आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि पहले जब परिवार पहचान पत्र में त्रुटियों को ठीक करने के लिए प्रदेश के हर जिले में कैंप लगाए जाते थे तो साइट डाउन की समस्या से लोग काफी परेशान रहते थे.   ऐसे में अब देखना यह होगा कि दोबारा कैंप लगने पर सर्वर डाउन की समस्या आती है या नहीं?  क्योंकि सर्वर डाउन होने से लोग कैप का फायदा नहीं उठा पा रहे हैं। इस बार सरकार का कहना है कि ऐसी समस्या नहीं रहेगी।
 

हरियाणा सरकार परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) में दर्ज त्रुटियों को ठीक करने के लिए पूरे राज्य में तीन दिवसीय अभियान चलाएगी।

इन त्रुटियों को दुरुस्त करने के लिए पूरे प्रदेश में 28, 29 व 30 अप्रैल को जिला स्तर पर शिविर आयोजित किए जाएंगे। जिलों में ग्राम स्तर पर भी शिविर आयोजित किए जाएंगे।


इन शिविरों के आयोजन की जिम्मेदारी जिला उपायुक्तों और अतिरिक्त जिला उपायुक्तों की होगी।

यदि संबंधित जिले के विधायक व जनप्रतिनिधि इन शिविरों में शामिल होना चाहते हैं तो यह उनकी इच्छा पर निर्भर करेगा।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल के निर्देश पर परिवार पहचान पत्र में त्रुटि सुधार के लिए अभियान शुरू किया गया है.


पहले भी ऐसे कैंप लगाए गए थे जिनमें लाखों लोगों का डेटा ठीक किया गया था.

आपको बता दें कि फिर से शिविर इसलिए लग रहे हैं क्योंकि विपक्ष परिवार पहचान पत्र में गड़बड़ी को बड़ा मुद्दा बना रहा है.

जबकि परिवार पहचान पत्र योजना मुख्यमंत्री मनोहर लाल के दिल के बेहद करीब है।


हरियाणा परिवार पहचान पत्र योजना के तहत 14 अंकों के विशिष्ट पहचान पत्र का उद्देश्य नागरिक केंद्रित सेवाओं के वितरण में पारदर्शिता प्रदान करने के साथ-साथ भ्रष्टाचार को कम करना और राज्य के फर्जी लाभार्थियों का पता लगाना है।

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि पहले जब परिवार पहचान पत्र में त्रुटियों को ठीक करने के लिए प्रदेश के हर जिले में कैंप लगाए जाते थे तो साइट डाउन की समस्या से लोग काफी परेशान रहते थे.


ऐसे में अब देखना यह होगा कि दोबारा कैंप लगने पर सर्वर डाउन की समस्या आती है या नहीं?

क्योंकि सर्वर डाउन होने से लोग कैप का फायदा नहीं उठा पा रहे हैं। इस बार सरकार का कहना है कि ऐसी समस्या नहीं रहेगी।

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here