Public Haryana News Logo

हरियाणा रोडवेज को जल्द ही एक बड़ा तोहफा, इन रूटों पर पहुंची एसी बसें

 | 
इसीलिए उन्हें AC बसों में सफर करना पसंद है. 25 नॉन एसी बसें यमुनानगर डिपो पहुंच गई है,  यमुना नगर डिपो में कुल 100 बसों के आने की उम्मीद है इसमें 90 बसें non-ac की और 10 बसें AC की होंगी.  रोडवेज बेड़े में हो जाएगी कुल 265 बसें   यमुनानगर डिपो के जीएम ने जानकारी देते हुए बताया कि पहले रोडवेज के पास 225 बसों का बेडा तय किया गया था, अब इन बसों की संख्या को बढ़ा दिया गया है. अब रोडवेज बेड़े में 265 के आसपास बसे होंगी. उम्मीद है कि इस बेड़े के हिसाब से जल्द यमुनानगर डिपो को बसे मिलना भी शुरू हो जाएंगी.   इससे यात्रियों को भी काफी लाभ होने वाला है. सभी रूटों पर बस चलने से यात्रियों को बेहतर सुविधा मिलेगी, जिससे उन्हें बसों की किल्लत का सामना नहीं करना पड़ेगा.  इन रूटों पर किया जाएगा संचालन   यमुनानगर जिला यूपी और हिमाचल प्रदेश राज्यों की सीमा पर है. दोनों राज्यों में बड़ी संख्या में यात्री यहां सफर करते रहते हैं.  दिल्ली रूट पर भी कमाई का रूट है, परंतु दिल्ली रूट की बस यहां शाम के समय नहीं मिलती,   क्योंकि बसों की संख्या कम है. इसके अलावा, कई रास्ते कई दिनों से बंद थे, इसी वजह से बसे बर्बादी की कगार पर आ गई. अब नई
हरियाणा के यमुनानगर रोडवेज विभाग को जल्द ही एक बड़ा तोहफा मिलने वाला है. विभाग को पहली बार 10 नई AC बसे मिलने वाली है. मौजूदा समय की बात की जाए, तो यमुनानगर डिपो पर AC की बस नहीं है. 

यमुनानगर बस स्टैंड पर सीटीयू और हिमाचल प्रदेश रोडवेज की कुछ बसें ही चलती है. कई साल पहले वॉल्वो बसें दिल्ली तक चलती थी, जो अब बंद कर दी गई है. यमुनानगर डिपो से अब Haryana Roadways की 10 New AC बसें चलेंगी.

जल्द रोडवेज डिपो को मिलेगा एक बड़ा तोहफा 

बस मिलने से पहले ही अधिकारियों की तरफ से पहले ही पूरा प्लान तैयार कर लिया गया है कि कौन सी बस को कौन से रूट पर चलाया जाएगा. दिल्ली, चंडीगढ़ रूटों पर भी बसें चलाने की तैयारियां शुरू की जा रही है. कई नागरिक ऐसे हैं जो कंफर्ट चाहते हैं, 

इसीलिए उन्हें AC बसों में सफर करना पसंद है. 25 नॉन एसी बसें यमुनानगर डिपो पहुंच गई है,  यमुना नगर डिपो में कुल 100 बसों के आने की उम्मीद है इसमें 90 बसें non-ac की और 10 बसें AC की होंगी.

रोडवेज बेड़े में हो जाएगी कुल 265 बसें 

यमुनानगर डिपो के जीएम ने जानकारी देते हुए बताया कि पहले रोडवेज के पास 225 बसों का बेडा तय किया गया था, अब इन बसों की संख्या को बढ़ा दिया गया है. अब रोडवेज बेड़े में 265 के आसपास बसे होंगी. उम्मीद है कि इस बेड़े के हिसाब से जल्द यमुनानगर डिपो को बसे मिलना भी शुरू हो जाएंगी. 

इससे यात्रियों को भी काफी लाभ होने वाला है. सभी रूटों पर बस चलने से यात्रियों को बेहतर सुविधा मिलेगी, जिससे उन्हें बसों की किल्लत का सामना नहीं करना पड़ेगा.

इन रूटों पर किया जाएगा संचालन 

यमुनानगर जिला यूपी और हिमाचल प्रदेश राज्यों की सीमा पर है. दोनों राज्यों में बड़ी संख्या में यात्री यहां सफर करते रहते हैं.  दिल्ली रूट पर भी कमाई का रूट है, परंतु दिल्ली रूट की बस यहां शाम के समय नहीं मिलती, 

क्योंकि बसों की संख्या कम है. इसके अलावा, कई रास्ते कई दिनों से बंद थे, इसी वजह से बसे बर्बादी की कगार पर आ गई. अब नई 

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here