Movie prime

 Nuh Violence Latest Update: हरियाणा में हिंसा के बाद अब कैसे हैं हालात, CM मनोहर लाल खट्टर ने दी जानकारी

 
Haryana Violence Latest Update: हरियाणा के नूंह में 31 जुलाई को शोभायात्रा के दौरान हुई हिंसा की आग राज्य के कई जिलों में पहुंच गई है. नूंह में यह हिंसा अचानक नहीं भड़की थी, बल्कि इसके लिए स्क्रिप्ट पहले से ही तैयार की गई थी. इसके कई सबूत सामने आ चुके हैं. इसके बाद हरियाणा सरकार पर सवाल उठ रहे हैं और नूंह हिंसा को एक तरह से सिस्टम फेल्यर कहा जा रहा है. इस बीच हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने हिंसा को लेकर जानकारी दी है और बताया है कि जिन जगहों पर हिंसा की घटनाएं हुई, वहां अब कैसे हालात हैं.  हिंसाग्रस्त इलाकों में अब कैसे हैं हालात?    हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने बताया कि नूंह में झड़प (Nuh Violence) के बाद अन्य स्थानों पर हिंसा की घटनाएं हुईं जिनपर काबू पा लिया गया है. उन्होंने कहा कि साजिशकर्ताओं की पहचान की जा रही है, दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. आम लोगों की सुरक्षा हमारी जिम्मेदारी है.  हिंसा में अब तक 6 लोगों की हुई मौत  मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने बुधवार को कहा कि राज्य में सांप्रदायिक हिंसा में दो होम गार्ड समेत छह लोगों की मौत हो गई है और कई लोग घायल हैं. इन मामलों में 116 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. मुख्यमंत्री ने बताया कि घायलों को नूंह के नलहड़ और गुरुग्राम के मेदांता सहित विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. हिंसा की घटनाओं में 116 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है.  हरियाणा के डीजीपी ने बताया अब कैसे हैं हालात  सांप्रदायिक हिंसा को लेकर हरियाणा के डीजीपी पीके अग्रवाल ने कहा कि स्थिति काबू में है और सभी मामलों की जांच के लिए एसआईटी गठित की जाएगी. उन्होंने कहा कि बजरंग दल के मोनू मानेसर की भूमिका की जांच की जा रही है और दंगों के संबंध में नूंह में 41 प्राथमिकियां दर्ज की गई हैं.  केंद्रीय सुरक्षाबलों की 20 कंपनियां तैनात  हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद स्थिति तनावपूर्ण है और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हरियाणा पुलिस के जवानों के अलावा केंद्रीय सुरक्षा बलों की 20 कंपनियां तैनात की गई हैं. इनमें से तीन कंपनियां पलवल, दो गुरुग्राम, एक फरीदाबाद और 14 नूंह में तैनात हैं. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है.  हमला सुनियोजित और एक बड़ी साजिश: CM खट्टर  मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने नूंह हिंसा को 'दुर्भाग्यपूर्ण' करार दिया है और कहा है कि विश्व हिंदू परिषद (VHP) की यात्रा पर हमला सुनियोजित था, जो एक बड़ी साजिश की ओर इशारा करता है.' उन्होंने कहा, 'सुनियोजित और षडयंत्र पूर्ण तरीके से नूंह में सामाजिक यात्रा को भंग करने के लिए आक्रमण किया गया और पुलिस को भी निशाना बनाया गया, जो बड़ी साजिश की तरफ इशारा करता है.'  नियोजित थी नूंह की हिंसा: गृह मंत्री अनिल विज  हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने भी दावा किया कि हिंसा नियोजित थी और हरियाणा में शांति भंग करने के लिए नूंह में हिंसा की साजिश रची. उन्होंने कहा 'किसी ने इसकी साजिश रची है, लेकिन मैं किसी नतीजे पर नहीं पहुंचा हूं. हम इसकी जांच करेंगे और हर जिम्मेदार व्यक्ति को न्याय के कठघरे में लाया जाएगा.'
 

Haryana Violence Latest Update: हरियाणा के नूंह में 31 जुलाई को शोभायात्रा के दौरान हुई हिंसा की आग राज्य के कई जिलों में पहुंच गई है. नूंह में यह हिंसा अचानक नहीं भड़की थी, बल्कि इसके लिए स्क्रिप्ट पहले से ही तैयार की गई थी. इसके कई सबूत सामने आ चुके हैं. इसके बाद हरियाणा सरकार पर सवाल उठ रहे हैं और नूंह हिंसा को एक तरह से सिस्टम फेल्यर कहा जा रहा है. इस बीच हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने हिंसा को लेकर जानकारी दी है और बताया है कि जिन जगहों पर हिंसा की घटनाएं हुई, वहां अब कैसे हालात हैं.

हिंसाग्रस्त इलाकों में अब कैसे हैं हालात?

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने बताया कि नूंह में झड़प (Nuh Violence) के बाद अन्य स्थानों पर हिंसा की घटनाएं हुईं जिनपर काबू पा लिया गया है. उन्होंने कहा कि साजिशकर्ताओं की पहचान की जा रही है, दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. आम लोगों की सुरक्षा हमारी जिम्मेदारी है.

हिंसा में अब तक 6 लोगों की हुई मौत

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने बुधवार को कहा कि राज्य में सांप्रदायिक हिंसा में दो होम गार्ड समेत छह लोगों की मौत हो गई है और कई लोग घायल हैं. इन मामलों में 116 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. मुख्यमंत्री ने बताया कि घायलों को नूंह के नलहड़ और गुरुग्राम के मेदांता सहित विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. हिंसा की घटनाओं में 116 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है.

हरियाणा के डीजीपी ने बताया अब कैसे हैं हालात

सांप्रदायिक हिंसा को लेकर हरियाणा के डीजीपी पीके अग्रवाल ने कहा कि स्थिति काबू में है और सभी मामलों की जांच के लिए एसआईटी गठित की जाएगी. उन्होंने कहा कि बजरंग दल के मोनू मानेसर की भूमिका की जांच की जा रही है और दंगों के संबंध में नूंह में 41 प्राथमिकियां दर्ज की गई हैं.

केंद्रीय सुरक्षाबलों की 20 कंपनियां तैनात

हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद स्थिति तनावपूर्ण है और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हरियाणा पुलिस के जवानों के अलावा केंद्रीय सुरक्षा बलों की 20 कंपनियां तैनात की गई हैं. इनमें से तीन कंपनियां पलवल, दो गुरुग्राम, एक फरीदाबाद और 14 नूंह में तैनात हैं. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है.

हमला सुनियोजित और एक बड़ी साजिश: CM खट्टर

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने नूंह हिंसा को 'दुर्भाग्यपूर्ण' करार दिया है और कहा है कि विश्व हिंदू परिषद (VHP) की यात्रा पर हमला सुनियोजित था, जो एक बड़ी साजिश की ओर इशारा करता है.' उन्होंने कहा, 'सुनियोजित और षडयंत्र पूर्ण तरीके से नूंह में सामाजिक यात्रा को भंग करने के लिए आक्रमण किया गया और पुलिस को भी निशाना बनाया गया, जो बड़ी साजिश की तरफ इशारा करता है.'

नियोजित थी नूंह की हिंसा: गृह मंत्री अनिल विज

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने भी दावा किया कि हिंसा नियोजित थी और हरियाणा में शांति भंग करने के लिए नूंह में हिंसा की साजिश रची. उन्होंने कहा 'किसी ने इसकी साजिश रची है, लेकिन मैं किसी नतीजे पर नहीं पहुंचा हूं. हम इसकी जांच करेंगे और हर जिम्मेदार व्यक्ति को न्याय के कठघरे में लाया जाएगा.'

WhatsApp Group Join Now