Movie prime

भारत की पहली 100% इथेनॉल से चलने वाली कार 29 अगस्त को नितिन गडकरी द्वारा लॉन्च की जाएगी

 
भारत की पहली 100% इथेनॉल से चलने वाली कार 29 अगस्त को नितिन गडकरी द्वारा लॉन्च की जाएगी​​​​​​​

हमारे देश के सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का एक बहुत बड़ा बयान सामने आ रहा है। जिसमें वह बताते नजर आ रहे हैं कि 100 फीसदी इथेनॉल ईंधन वाली कार भारत में विकसित की गई है। और इसी दिन बाजार में लॉन्च होने जा रहा है. दोस्तों जैसा कि आप जानते होंगे कि नितिन गडकरी का सपना है कि भारत आने वाले कुछ वर्षों में पूरी तरह से प्रदूषण मुक्त ऑटोमोबाइल की ओर आगे बढ़ेगा। इसके अलावा भारत में अधिक से अधिक इथेनॉल ईंधन वाले वाहन चल रहे हैं। इससे पेट्रोल के लिए किसी दूसरे देश पर हमारी निर्भरता कम होगी. तो आइए जानते हैं पूरी खबर के बारे में.

इस दिन लॉन्च होगी कार

भारत की पहली 100% इथेनॉल से चलने वाली कार 29 अगस्त को नितिन गडकरी द्वारा लॉन्च की जाएगी। आपको बता दें कि यह भारत की पहली कार होगी, जो 100% इथेनॉल ईंधन पर चलने में सक्षम होगी। इस कार को टोयोटा ने विकसित किया है, जिसका मॉडल नाम टोयोटा इनोवा कार होगा।

जिसमें कंपनी का दावा है कि यह 100% इथेनॉल युक्त ईंधन पर चलने में सक्षम है। नितिन गडकरी ने दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान यह घोषणा की. उन्होंने कहा, ''29 अगस्त को मैं टोयोटा की इनोवा कार लॉन्च करने जा रहा हूं जो 100% इथेनॉल पर चलती है।''

इससे पहले हाइड्रोजन से चलने वाली कार लॉन्च की गई थी

भारत को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए हमारे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी द्वारा हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। पिछले साल नितिन गडकरी ने भारत की पहली हाइड्रोजन से चलने वाली कार लॉन्च की थी. कार को टोयोटा मिराई ईव कार कहा जाता था। आपको बता दें कि हाइड्रोजन से चलने वाले वाहन प्रदूषण नहीं फैलाते हैं।

इनकी कीमत भी पेट्रोल और डीजल से काफी कम है। हाइड्रोजन को प्रदूषण रहित ईंधन भी कहा जाता है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि हमारे पास हाइड्रोजन प्रचुर मात्रा में है।

भविष्य में और भी प्रयास किये जायेंगे

आपको बता दें कि हमारे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी आने वाले समय में प्रदूषण कम करने के लिए हर कदम उठाएंगे. क्योंकि भारत में वायु प्रदूषण आजकल एक बड़ी समस्या बन गई है। जबकि ये प्रदूषक तत्व दिन-ब-दिन बढ़ते ही जा रहे हैं। ऐसे में अगर इस पर कोई कठोर कदम नहीं उठाया गया तो आगे चलकर यह भारत के लिए एक बड़ी चुनौती खड़ी होगी।

WhatsApp Group Join Now