Movie prime

 Haryana News: संचालकों के लिए खुशखबरी, जींद डिपो को मिलीं 155 ई-टिकटिंग मशीनें; खुले पैसों का झंझट बंद होगा

 
संचालकों के लिए खुशखबरी, जींद डिपो को मिलीं 155 ई-टिकटिंग मशीनें; खुले पैसों का झंझट बंद होगा
 

हरियाणा के जींद में लंबे समय के बाद परिचालकों का इंतजार खत्म हो गया है। जींद डिपो में मुख्यालय द्वारा 155 ई टिकटिंग मशीन भेजी गई है। डिपो में 300 से ज्यादा चालक व परिचालक हैं। ई टिकटिंग मशीन आने के बाद रोडवेज का टिकट छपाई पर खर्च होने वाला लाखों रुपये का खर्च बचेगा। जल्द ही अन्य परिचालकों के लिए भी ई टिकटिंग मशीन आने की संभावना है।

ई टिकटिंग मशीन का होगा ये फायदा

ई टिकटिंग मशीन आने से यात्री नकद के अलावा ई-वालेट या डेबिट और क्रेडिट कार्ड से भुगतान कर सकेंगे। इस पारदर्शी व्यवस्था में टिकट लेने को लेकर न तो यात्री गड़बड़ी कर सकेंगे और न हीं रोडवेज परिचालक, क्योंकि टिकट कटने का समय और स्टॉपेज भी टिकट पर अंकित होगा। साथ ही पास का रिकॉर्ड भी दर्ज होगा। इसे स्कैन करते ही पास के असली-नकली का पता चल सकेगा।

इस व्यवस्था का फायदा न केवल रोडवेज बल्कि यात्रियों को भी होगा। इससे रोडवेज के परिचालकों को भी पंच लगाकर टिकट काटने से छुटकारा मिलेगा। परिचालकों को दी गई ई टिकटिंग मशीन में दर्ज रूट पर क्लिक करते ही कुछ सेकेंड में टिकट बनकर बाहर निकल जाएगी। वहीं बस स्टैंड परिसर में ई टिकटिंग मशीन की चार्जिंग के लिए पॉइंट भी बनाए गए हैं।

खुले पैसे का झंझट होगा बंद

ईटीएम से विभाग के साथ-साथ यात्रियों को भी फायदा होगा। यात्री टिकट का भुगतान कैश के साथ-साथ एटीएम या ई वॉलेट के जरिए भी कर सकेंगे। इससे खुले पैसों संबंधित समस्या दूर हो जाएगी। वर्तमान में पैसे खुले नहीं होने पर परिचालक टॉफी दे देते हैं, अब ऐसा नहीं कर सकेंगे।

लंबे समय से परिचालकों को ई टिकटिंग मशीन का इंतजार था, जो अब खत्म हो चुका है। डिपो में 155 ई टिकटिंग मशीन आ चुकी हैं। ई टिकटिंग मशीन आने से परिचालकों व यात्रियों दोनों को फायदा होगा। यात्री डेबिट कार्ड से भी टिकट का भुगतान कर सकेंगे। परिचालकों को पंच लगाकर टिकट देने से छुटकारा मिलेगा।

WhatsApp Group Join Now