Public Haryana News Logo

हरियाणा को मेट्रो विस्तार में केंद्र से झटका: दीपेंद्र हुड्‌डा के सवाल पर लोकसभा में खुलासा 13141.75 करोड़ रुपए में नहीं मिली मदद

 | 
4 रेल विस्तार प्रस्ताव नहीं दे पाया हरियाणा दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि हरियाणा में डबल इंजन की सरकार फेल हो चुकी है। केंद्र द्वारा मेट्रो विस्तार के लिए हजारों करोड़ आवंटित किए जाने के बावजूद वो प्रदेश के लिए केंद्र से एक भी रुपया नहीं ले पाई। इतना ही नहीं, केंद्र सरकार के जवाब से यह भी खुलासा हुआ कि 9 साल में हरियाणा की कमजोर सरकार गुरुग्राम-बावल, द्वारका-बाढसा, कुंडली-सोनीपत और बहादुरगढ़-रोहतक मेट्रो रेल विस्तार का प्रस्ताव तक नहीं दे पाई।  कांग्रेस ने 41 किमी किया विस्तार सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने बताया कि 2010 में केंद्र सरकार द्वारा दिल्ली के बाहर अन्य शहरों को मेट्रो से जोड़ने की बात आई तो हुड्डा सरकार ने 4 साल में हरियाणा के 4 शहरों गुरुग्राम, बल्लभगढ़, फरीदाबाद, बहादुरगढ़ को दिल्ली मेट्रो से जोड़ दिया। 4 साल में करीब 41 किलोमीटर मेट्रो लाइन का काम पूरा कराया, लेकिन 2014 के बाद जब से डबल इंजन सरकार प्रदेश में आई है तब से मेट्रो की रफ्तार पर ही ब्रेक लग गया।  कांग्रेस सरकार आते ही होगा विस्तार राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्‌डा ने कहा कि 9 साल में 41 किलोमीटर मेट्रो तो दूर की बात है 41 सेंटीमीटर का भी काम नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि हरियाणा में कांग्रेस की सरकार आने के बाद एक बार फिर से पूरे हरियाणा में मेट्रो का विस्तार किया जाएगा।
हरियाणा को मेट्रो विस्तार योजना में केंद्र ने झटका दिया है। राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने हरियाणा में मेट्रो रेल के विस्तार पर केंद्र सरकार से सवाल पूछने पर केंद्रीय आवासन और शहरी कार्य राज्य मंत्री कौशल किशोर ने इसका खुलासा किया है। दीपेंद्र हुड्‌डा ने बताया कि केंद्रीय मंत्री की ओर से बताया गया है कि दिल्ली मेट्रो रेल के विस्तार के लिए भारत सरकार द्वारा देश भर में पिछले 5 वर्षों में कुल 10,856.75 करोड़ रुपए आवंटित किए गए।

इसके अलावा प्रस्तावित वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए 2285 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं, यानि कुल 13141.75 करोड़ रुपए आवंटित किए। हरियाणा को एक भी रुपया केंद्र की ओर से आवंटित नहीं किया गया।

4 रेल विस्तार प्रस्ताव नहीं दे पाया हरियाणा
दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि हरियाणा में डबल इंजन की सरकार फेल हो चुकी है। केंद्र द्वारा मेट्रो विस्तार के लिए हजारों करोड़ आवंटित किए जाने के बावजूद वो प्रदेश के लिए केंद्र से एक भी रुपया नहीं ले पाई। इतना ही नहीं, केंद्र सरकार के जवाब से यह भी खुलासा हुआ कि 9 साल में हरियाणा की कमजोर सरकार गुरुग्राम-बावल, द्वारका-बाढसा, कुंडली-सोनीपत और बहादुरगढ़-रोहतक मेट्रो रेल विस्तार का प्रस्ताव तक नहीं दे पाई।

कांग्रेस ने 41 किमी किया विस्तार
सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने बताया कि 2010 में केंद्र सरकार द्वारा दिल्ली के बाहर अन्य शहरों को मेट्रो से जोड़ने की बात आई तो हुड्डा सरकार ने 4 साल में हरियाणा के 4 शहरों गुरुग्राम, बल्लभगढ़, फरीदाबाद, बहादुरगढ़ को दिल्ली मेट्रो से जोड़ दिया। 4 साल में करीब 41 किलोमीटर मेट्रो लाइन का काम पूरा कराया, लेकिन 2014 के बाद जब से डबल इंजन सरकार प्रदेश में आई है तब से मेट्रो की रफ्तार पर ही ब्रेक लग गया।

कांग्रेस सरकार आते ही होगा विस्तार
राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्‌डा ने कहा कि 9 साल में 41 किलोमीटर मेट्रो तो दूर की बात है 41 सेंटीमीटर का भी काम नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि हरियाणा में कांग्रेस की सरकार आने के बाद एक बार फिर से पूरे हरियाणा में मेट्रो का विस्तार किया जाएगा।

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here