Public Haryana News Logo

हरियाणा न्यूज़: 2 करोड़ डॉलर के डॉक्टर ने गवाएं 63 लाख रुपए, एक गिरफ्तार

 | 
Haryana News
 

Haryana News: रोहतक जिले के साइबर थाना की टीम ने पीजीआई रोहतक के बीडीएस डॉक्टर से 63 लाख की ठगी के मामले एक विदेशी आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा है. आरोपी के गैंग ने पीड़ित डॉक्टर  को 2 मिलियन से ज्यादा डॉलर के बैंक खाते का नॉमिनी बनाने का झांसा देकर डॉक्टर से करीब 63 लाख रुपये की धोखाधड़ी की है. वारदात को हल करते हुए पुलिस ने गिरोह में शामिल रहे नाइजीरियन आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है. आरोपी को स्थानीय अदालत में पेश कर दस दिन का पुलिस रिमांड हासिल किया था. आज वह रिमांड पूरा हुआ है जिसके बाद आरोपी को जिला अदालत मे पेशकर जेल भेज दिया गया है.

साईबर थाना के एसएचओ कुलदीप सिंह ने बताया कि  5 नवम्बर को पीजीआई के बीडीएस डॉक्टर जयभगवान ने शिकायत दर्ज कराई थी, जिसके आधार पर मामला दर्जकर जांच शुरु की गई. प्रारंभिक जांच में सामने आया कि जयभगवान के पास इंस्टाग्राम पर एक फ्रेंड रिक्वेस्ट आई. जयभगवान ने उससे इंस्टा व इमेल पर बातचीत शुरु हुई. युवती ने अपना नाम मारिया इमान फिलिपिन की रहने वाली बताया. मारिया इमान ने बताया कि वह यूनाइटेड किंगडम लंदन में एक बैंक मे ऑडिटर के पद पर काम करती है. उसने अपना आईडी कार्ड भेजा. युवती ने अपने आप को तलाकशुदा बताते हुये जयभगवान को अपनी बातों में फंसा लिया.

उसने कहा कि बैंक में एक आदमी का अंकाउट है, जिसका नाम डेनिम बैनजक है जो लिबिया का बिजनस मैन था. उसने उस बैंक मे 2.8 मिलियन डॉलर जमा करवाये थे. जिसकी उसके गनमैन ने गोली मारकर हत्या कर दी और उसके खाते मे कोई नॉमिनी नहीं है. कुछ समय बाद कोई नॉमिनी न आने पर उसका सारा पैसा ट्रेजरी मे जमा हो जाएगा. युवती ने कहा कि उसे काफी अनुभव है व उसे पूरी जानकारी भेज देगी व जयभगवान नॉमिनी का फॉर्म भरकर उसे भेज दे. जयभगवान से मांगी गई जानकरी उनको भेज दी. उन्होंने जयभगवान को नॉमिनी की घोषणा करते हुए कहा कि उसे एंटी ड्रग ट्ररिस्ट सर्टिफिकेट जमा कराना होगा, जिसके लिये उनका वकील जयभगवान से सम्पर्क करेगा. जिसकी फीस व एफिटेवड ऑफ क्लेम, पॉवर ऑफ अटॉर्नी के नाम से जयभगवान से 8,21,950 रुपये ट्रांसफर करवा लिए. जयभगवान से लीबिया सरकार के मजिस्ट्रेट के साइन व अलग-2 फंड के नाम से कुल 62,98,050 रुपये ट्रांसफर करवा लिए, जिसके बाद जयभगवान को बताया कि मारिया इमान का एक्सीडेंट हो गया.

मामले की जांच के दौरान दिनांक 2.12.2023 को  एक आरोपी ओकेचुकबु किंग्सले नाइजीरियन को मुंबई से गिरफ्तार किया है. नजीरियन व्यक्ति से कुछ कैश भी बरामद हुआ है. उसे अदालत में पेश किया गया था और अदालत से 10 दिन का रिमांड हासिल किया गया था और 10 दिन का डिमांड आज खत्म हुआ, जिसके बाद उसे दोबारा से अदालत में पेश कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है. साइबर थाना पुलिस ने लोगों से अपील कि है कि किसी भी अनजान व्यक्ति से पैसे के लेन-देन न करें और साइबर ठगों से सावधान रहें साइबर ठगी के अलग-अलग तरीके अपना रहे हैं.

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here