Public Haryana News Logo

सब को हैरान कर देने वाली खबर 5 महीने के बच्चे के पास 12 Id प्रूफ, बनाया इंडिया वर्ल्ड रिकॉर्ड...पढ़िए कौन-कौन सी बनवा चुका है आईडी ​​​​​​​

 | 
5 महीने के बच्चे के पास 12 आईडी प्रूफ है  हरियाणा के फरीदाबाद के बल्लमगढ़ के रहने वाले नितिन अग्रवाल को अपने पांच महीने के बेटे के लिए सभी जरूरी दस्तावेज मिल गए हैं। उनका मानना ​​है कि समय पर सभी दस्तावेज बनवाना बेहद जरूरी है ताकि जरूरत पड़ने पर आप दलालों के चंगुल में न फंसें। नितिन अग्रवाल ने अपने बेटे का जन्म प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, पैन कार्ड, बैंक खाता, एलआईसी, परिवार पहचान पत्र, पीपीएफ खाता, सरकारी टीकाकरण कार्ड, मेडिक्लेम ऑरा कार्ड, भारत स्वास्थ्य खाता, आयुष्मान कार्ड और किसान विकास पत्र तैयार किया है।   नितिन अग्रवाल ने बताया कि जब तक बच्चा 6 महीने का नहीं हो जाता तब तक उसके 15 सरकारी दस्तावेज तैयार हो जाएंगे क्योंकि हाल ही में उसने पासपोर्ट के लिए भी आवेदन किया है जो जल्द ही तैयार हो जाएगा। दरअसल, नितिन अग्रवाल की जागरूकता ने आज सभी को हैरान कर दिया है.  जागरूकता फैलाने के लिए उठाए गए कदम  नितिन अग्रवाल का कहना है कि सरकारी दस्तावेज हासिल करने के लिए जागरूकता होना बहुत जरूरी है। कुछ लोग समय की कमी या डर के कारण सरकारी दस्तावेज नहीं बनवा पाते हैं। लेकिन नितिन अग्रवाल का कहना है कि सरकारी दस्तावेज समय पर मिलने से फायदा ही फायदा होता है और सरकारी दफ्तरों के चक्कर नहीं लगाने पड़ते और सरकारी योजनाओं का लाभ भी मिलता है.
Public Haryana News :- 5 माह का बच्चा और उसके 12 जरूरी दस्तावेज। यह पढ़कर आपको थोड़ी हैरानी होगी लेकिन  हरियाणा के फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ के रहने वाले नितिन अग्रवाल ने अपने 5 महीने के बेटे के 12 सरकारी दस्तावेज तैयार कर लिए हैं। 

आज के समय में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो सरकारी दस्तावेज बनवाना जरूरी नहीं समझते और सरकारी योजनाओं(government schemes) से वंचित रह जाते हैं लेकिन सरकारी दस्तावेज(official document) बनवाने के प्रति जागरुकता फैलाने के लिए हरियाणा के एक शख्स ने अपने 5 महीने के बेटे के सभी जरूरी दस्तावेज तैयार कर लिए हैं. एक विश्व रिकॉर्ड(world record)।

हरियाणा के फरीदाबाद के बल्लभगढ़ के रहने वाले नितिन अग्रवाल ने अपने 5 महीने के बेटे दुआंश के लिए सभी जरूरी सरकारी दस्तावेज तैयार कर लिए हैं और अब वह देश के सबसे कम उम्र के व्यक्ति हैं जिनके पास सबसे ज्यादा आधिकारिक दस्तावेज दर्ज किए गए हैं। आइए जानते हैं खबर विस्तार से

जानें कौन- कौन से हैं दस्तावेज

हरियाणा के फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ निवासी नितिन अग्रवाल ने अपने 5 महीने के बेटे के 12 सरकारी दस्तावेज तैयार करवा लिए हैं. इन दस्तावेजों में बर्थ सर्टिफिकेट, आधार कार्ड, पैन कार्ड, बैंक खाता, LIC, परिवार पहचान- पत्र, PPF अकाउंट, सरकारी टीकाकरण कार्ड, मेडिक्लेम आभा कार्ड, आयुष्मान कार्ड, भारत स्वास्थ्य खाता और किसान विकास पत्र शामिल हैं.

जल्द बनेगा पासपोर्ट

पिता नितिन अग्रवाल ने बताया कि बेटे के 6 महीने की आयु पूरी होने तक उसके 15 सरकारी दस्तावेज बनकर तैयार हो जाएंगे. उन्होंने बताया कि बेटे के पासपोर्ट के लिए अप्लाई किया गया है जो जल्द ही बनकर आ जाएगा. इस उपलब्धि की वजह से यह बच्चा इंडिया वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर बन गया है क्योंकि इतनी छोटी उम्र में सबसे ज्यादा सरकारी दस्तावेज इसके पास है.

जागरुकता सबसे जरूरी

पिता ने बताया कि समाज के लोगों में समय पर सरकारी दस्तावेज बनवाने की जागरूकता फैलें, इसलिए उन्होंने इस छोटी सी उम्र में अपने बेटे दूआंश के 10 से अधिक सरकारी दस्तावेज तैयार करवा लिए हैं. उन्होंने कहा कि आजकल लोग अपनी I’d, एड्रेस प्रूफ और जरूरी दस्तावेज तैयार करवाने से डरते हैं या समय के अभाव का बहाना बनाकर इस तरह की ज़रूरी बातों को अनदेखी कर देते हैं. ऐसे लोगों के लिए एक संदेश है कि समय पर अपने सरकारी दस्तावेजों को तैयार करवा लें ताकि सरकारी योजनाओं का लाभ उठाया जा सकें.

दलालों के चंगुल में नहीं पड़ेगा फंसना

वहीं, बच्चे की मां ने बताया कि समय पर सरकारी दस्तावेज तैयार करवाने के फायदे ही फायदे हैं. यदि हमारे पास दस्तावेज नहीं होंगे तो हम सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने से वंचित रह जाएंगे. या फिर ऐन वक्त पर दस्तावेज तैयार करवाने पड़ते हैं तो सरकारी कार्यालयों की भागदौड़ बढ़ जाती है और दलालों के चंगुल मे फंसकर पैसा भी अधिक खर्च करना पड़ता है.

5 महीने के बच्चे के पास 12 आईडी प्रूफ है

हरियाणा के फरीदाबाद के बल्लमगढ़ के रहने वाले नितिन अग्रवाल को अपने पांच महीने के बेटे के लिए सभी जरूरी दस्तावेज मिल गए हैं। उनका मानना ​​है कि समय पर सभी दस्तावेज बनवाना बेहद जरूरी है ताकि जरूरत पड़ने पर आप दलालों के चंगुल में न फंसें। नितिन अग्रवाल ने अपने बेटे का जन्म प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, पैन कार्ड, बैंक खाता, एलआईसी, परिवार पहचान पत्र, पीपीएफ खाता, सरकारी टीकाकरण कार्ड, मेडिक्लेम ऑरा कार्ड, भारत स्वास्थ्य खाता, आयुष्मान कार्ड और किसान विकास पत्र तैयार किया है।

नितिन अग्रवाल ने बताया कि जब तक बच्चा 6 महीने का नहीं हो जाता तब तक उसके 15 सरकारी दस्तावेज तैयार हो जाएंगे क्योंकि हाल ही में उसने पासपोर्ट के लिए भी आवेदन किया है जो जल्द ही तैयार हो जाएगा। दरअसल, नितिन अग्रवाल की जागरूकता ने आज सभी को हैरान कर दिया है.

जागरूकता फैलाने के लिए उठाए गए कदम

नितिन अग्रवाल का कहना है कि सरकारी दस्तावेज हासिल करने के लिए जागरूकता होना बहुत जरूरी है। कुछ लोग समय की कमी या डर के कारण सरकारी दस्तावेज नहीं बनवा पाते हैं। लेकिन नितिन अग्रवाल का कहना है कि सरकारी दस्तावेज समय पर मिलने से फायदा ही फायदा होता है और सरकारी दफ्तरों के चक्कर नहीं लगाने पड़ते और सरकारी योजनाओं का लाभ भी मिलता है.

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here