Public Haryana News Logo

खराब मौसम और भारी बारिश के कारण पंजाब, हरियाणा में सेना की एंट्री...चंडीगढ़ में यूनिवर्सिटी के 910 छात्र, अंबाला स्कूल की 730 गर्ल्स को बचाया

 | 
खराब मौसम और भारी बारिश के कारण पंजाब, हरियाणा में सेना की एंट्री...चंडीगढ़ में यूनिवर्सिटी के 910 छात्र, अंबाला स्कूल की 730 गर्ल्स को बचाया
 

चंडीगढ़. भारी बारिश के कारण पूरे उत्तर भारत  में त्राहि त्राहि मची हुई है. हिमाचल प्रदेश से लेकर पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड और दिल्ली तक सिर्फ पानी है. पानी से जुड़ी खबरों की सोशल मीडिया पोस्ट पर भऱमार है. बारिश ने सिर्फ जन जीवन ही अस्तव्यस्त नहीं किया है बल्कि इसकी वजह से अन्य सेवाओं पर भी गहरा असर पड़ा है. 

उत्तर रेलवे ने बताया कि गंभीर जलभराव की वजह से रेलवे ट्रैक पानी में डूब गए हैं, जिससे सनेहवाल-अंबाला मार्ग पर सेवाएं निलंबित कर दी गईं और ट्रेनों का मार्ग परिवर्तित कर दिया गया. बाढ़ जैसे हालात में फंस गए लोगों के लिए सेना की मदद लेनी पड़ी. हरियाणा के अंबाला में भारतीय सेना, एनडीआरएफ और पुलिस ने स्कूल में फंसी 730 छात्राओं को बचाया. वहीं चंडीगढ़ में चितकारा विश्वविद्यालय के 910 छात्रों को सुरक्षित निकाला.

रेल सेवा प्रभावित
 

हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार खराब मौसम और भारी बारिश के कारण  उत्तर रेलवे ने करीब 17 ट्रेनों को रद्द किया या उनके मार्ग में परिवर्तित किया. सनेहवाल-अंबाला मार्ग पर भी सेवाएं प्रभावित हुई हैं, उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार ने बताया कि , ट्रेन संख्या 18102, 12266, 14034, 12414, 12446 और 12426 का मार्ग बदला गया है.

सड़क मार्ग भी प्रभावित


नंगल-ऊना के रास्ते दिल्ली को धर्मशाला से जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग शनिवार को लगभग चार घंटे तक यातायात के लिए निलंबित रहा. वहीं, पंजाब राज्य के लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) ने दावा किया है कि पिछले तीन दिनों में  पंजाब में लगातार हुई बारिश और  बाढ़ के हालात की वजह से कम से कम 150 ग्रामीण सड़कें और 10 छोटे पुल क्षतिग्रस्त हो गए हैं. इसी तरह मोहाली के ग्रामीण इलाकों में इन्फ्रास्ट्रक्चर को सबसे ज्यादा नुकसान शिवालिक तलहटी के पास मौजूद डेरा बस्सी और मुल्लापुर इलाकों में देखा गया.

सेना से मांगी मदद


पंजाब और हरियाणा में नागरिक प्रशासन ने बचाव अभियान के लिए सेना से मदद मांगी थी. इसके बाद सेना ने दोनों राज्यों के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में प्रशासन की सहायता के लिए अपनी पश्चिमी कमान की बाढ़ राहत टुकड़ियों को भेजा था. इसके बाद हरियाणा के अंबाला में भारतीय सेना, एनडीआरएफ और पुलिस ने मिलकर स्कूल बिल्डिंग में फंसी चमन वाटिका कन्या गुरुकुल की 730 छात्राओं को बचाया.


वहीं दूसरे बचाव अभियान में भारतीय सेना ने चंडीगढ़ में चितकारा विश्वविद्यालय के 910 छात्रों को सुरक्षित क्षेत्रों में स्थानांतरित कर दिया. यहां पर छात्रों के मेस का एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें छात्र घुटनों तक भरे पानी में बैठ कर खाना खा रहे हैं.


 

बचाव अभियान के तहत फिरोजपुर जिले के अराजी सबरन गांव में प्रभावित इलाकों से महिलाओं और बच्चों सहित कम से कम 44 लोगों को निकाला गया और सेना के इंजीनियरों ने कथित तौर पर तटबंध की मरम्मत करके सरहिंद नहर को भी टूटने से रोकने में मदद की, जिससे पंजाब के दोराहा गांव और आसपास के इलाकों में बाढ़ को रोका जा सका

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here