Movie prime

 चन्द्रशेखर पर हमला करने वाले 4 आरोपी अम्बाला से, 3 यूपी से और 1 हरियाणा से गिरफ्तार

 भीम आर्मी के प्रमुख चन्द्रशेखर आज़ाद पर 29 जून को उत्तर प्रदेश के देवबंद में हमला हुआ था।
 
 चन्द्रशेखर पर हमला करने वाले 4 आरोपी अम्बाला से, 3 यूपी से और 1 हरियाणा से गिरफ्तार
 नई दिल्ली: दिल्ली आजाद समाज पार्टी के प्रमुख चन्द्रशेखर आजाद पर यूपी के देवबंद में नाबालिगों से मारपीट मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस ने 4 लोगों को अगलबा शेखशाहपुर अंबाला से गिरफ्तार किया है। अधिकारियों के मुताबिक, शनिवार सुबह करीब 10 बजे अंबाला की शाहजहाँपुर पुलिस ने यूपी पुलिस पर हमला बोल दिया। इनमें 4 में से 3 लोग उत्तर प्रदेश के हैं तो 1 हरियाणा का बताया जा रहा है।
 मिली जानकारी के अनुसार इन 4 पोस्टर में प्रशांत, विकास और लविश जो यूपी का रहने वाला है और विकास गोंडर निसिंग को गिरफ्तार किया गया है, जो हरियाणा का है। अपराधियों के दौरान इन सभी चार के पास से कोई भी हथियार बरामद नहीं हुआ है। जानकारी के अनुसार, हरियाणा में हमलावरों के प्रवेश द्वार के बाद पुलिस चौकन्ना हो गई थी।

29 जून को हुई थी वारदात

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद (Chandrashekhar Azad) पर 29 जून को उत्तर प्रदेश के देवबंद में हमला हुआ था. हमले के बाद अपने पहले इंटरव्‍यू में आजाद ने उत्तर प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला और कहा कि मुझे लगता है कि यूपी में कानून व्‍यवस्‍था खत्‍म हो गई है.

कि मैं गोलियों से नहीं डरता हूं. मैं संविधान के मुताबिक लड़ाई लड़ता रहूंगा. इसके साथ ही चंद्रशेखर आजाद ने हमले के वक्‍त की पूरी कहानी भी बताई. साथ ही उन्‍होंने अपने सभी समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील की और कहा कि मैं चुप नहीं बैठूंगा.

'मेरी किसी से दुश्‍मनी नहीं' 

उन्‍होंने कहा था कि मुझे यकीन ही नहीं हुआ कि मेरे गृह जनपद में हाईवे पर ऐसा हो सकता है. मेरी किसी से दुश्मनी नहीं है. मैं गोलियों से नहीं डरता पर मैं यही कहता हूं कि मैं लड़ाई संविधान के मुताबिक लड़ता रहूंगा. साथ ही  उन्‍होंने अपने सभी समर्थकों से शांति बनाए रखने की भी अपील की और कहा कि मैं चुप नहीं बैठूंगा.  

'सामाजिक असमानता के खिलाफ जारी रहेगी लड़ाई'
चंद्रशेखर ने कहा कि मैंने पहलवानों के लिए बृजभूषण के खिलाफ बोला. साथ ही उन्‍होंने कहा कि मुझे लगता है कि यूपी में क़ानून व्यवस्था ख़त्म हो गई है. मुझ पर जिन्होंने हमला किया उनको मैं नहीं पहचानता हूं. बस यही कहूंगा कि सामाजिक असमानता के खिलाफ मेरी लड़ाई जारी रहेगी.   

WhatsApp Group Join Now