Movie prime

 चाणक्य नीति: पत्नी को कभी न बताएं इस बात के बारे में, जिंदगी देगी मर्जी

चाणक्‍य नीति में दोस्ती, करियर, शादीशुदा जिंदगी, रुपया-पैसा और आदमी-औरत समेत कई तरह की बातों का उल्लेख किया गया है. हिंदू धर्म में शादी को बेहद अहम बताया गया है. उससे भी ज्यादा अहम सही जीवनसाथी का मिलना. हर शख्स चाहता है कि उसकी जिंदगी में जो भी आए, उसे सच्चा प्यार करे.
 
chanakya niti:

कहते हैं कि पति-पत्नी के रिश्ते के बीच की सच्चाई होती है। पति-पत्नी का रिश्ता पूरी तरह से मजबूत होता है, जब वह एक-दूसरे से कभी-कभी कुछ न छिपाते हैं, लेकिन भारत के जाने-माने अर्थशास्त्री, चापलूस और राजनीतिज्ञ चाणक्य कुछ और ही कहते हैं।

जी हां, वही अंश चाणक्य जिसने अपने भ्रमित के दम पर सामान्य से बालक चंद्रगुप्‍त मौर्य को पूरे भारत देश का सम्राट बना दिया था। वैसे तो आचार्य चाणक्य की नीतियो में हर तरह के रिश्ते, मनुष्य को लेकर कई अस्पष्ट का उल्लेख है लेकिन पति-पत्नी को लेकर उनके जो विचार हैं, वह दत्तक मात्र से एक विवाहित व्यक्ति की जिंदगी अनजानी है।

चाणक्य पॉलिसी में दोस्ती, करियर, शादीशुदा जिंदगी, एक-दो पैसा और आदमी-और साथ ही कई तरह की बातों का जिक्र किया गया है। हिंदू धर्म में शादी को बेहद अहम बताया गया है। उससे भी ज्यादा अहम सही करने का प्रयास करें।

हर शख्स चाहता है कि उसकी जिंदगी में जो भी आए, उसे सच्चा प्यार करे। उसका ख्याल रखना। अगर ऐसी पत्नी या गर्लफ्रेंड किसी को मिल जाती है तो पुरुष अपनी जिंदगी का हर राज उनके सामने खोलकर रखता है। अंश चाणक्य ने ऐसे पुरुषों को मूर्ख कहा है। कुछ ऐसी बातें होती हैं, जिन्हें पति अपनी पत्नी को कभी नहीं बताता। ऐसा इसलिए क्योंकि खामियाजा उन्हें पूरी तरह से देखता हूं।

कभी भी न कमज़ोरी बताएं

कहते हैं कि पति-पत्नी के रिश्ते के बीच की सच्चाई होती है। पति-पत्नी का रिश्ता पूरी तरह से मजबूत होता है, जब वह एक-दूसरे से कभी-कभी कुछ न छिपाते हैं, लेकिन भारत के जाने-माने अर्थशास्त्री, चापलूस और राजनीतिज्ञ चाणक्य कुछ और ही कहते हैं।

जी हां, वही अंश चाणक्य जिसने अपने भ्रमित के दम पर सामान्य से बालक चंद्रगुप्‍त मौर्य को पूरे भारत देश का सम्राट बना दिया था। वैसे तो आचार्य चाणक्य की नीतियो में हर तरह के रिश्ते, मनुष्य को लेकर कई अस्पष्ट का उल्लेख है लेकिन पति-पत्नी को लेकर उनके जो विचार हैं, वह दत्तक मात्र से एक विवाहित व्यक्ति की जिंदगी अनजानी है।

चाणक्य पॉलिसी में दोस्ती, करियर, शादीशुदा जिंदगी, एक-दो पैसा और आदमी-और साथ ही कई तरह की बातों का जिक्र किया गया है। हिंदू धर्म में शादी को बेहद अहम बताया गया है। उससे भी ज्यादा अहम सही करने का प्रयास करें।

हर शख्स चाहता है कि उसकी जिंदगी में जो भी आए, उसे सच्चा प्यार करे। उसका ख्याल रखना। अगर ऐसी पत्नी या गर्लफ्रेंड किसी को मिल जाती है तो पुरुष अपनी जिंदगी का हर राज उनके सामने खोलकर रखता है। अंश चाणक्य ने ऐसे पुरुषों को मूर्ख कहा है। कुछ ऐसी बातें होती हैं, जिन्हें पति अपनी पत्नी को कभी नहीं बताता। ऐसा इसलिए क्योंकि खामियाजा उन्हें पूरी तरह से देखता हूं।

कभी भी न कमज़ोरी बताएं

कहते हैं कि एक पुरुष किसी भी महिला को अपनी पत्नी की कमजोरी के बारे में नहीं बताना चाहिए। अंश चाणक्य कहते हैं कि अगर पति की किसी बात को लेकर पति कमजोर हो जाता है तो वह उसका फायदा उठाना शुरू कर देता है। अपनी बातों को मनवाने के लिए वह इसे शस्त्र की तरह प्रयोग करता है।

अपनी पुरानी बेइज्जती का न करें उल्लेख

कभी-कभी पुरुषों की जिंदगी में ऐसा भी आता है, जहां गलत न होते हुए भी या किसी अन्य कारणवश अपमान का सामना करना पड़ता है। ऐसे में अगर किसी पुरुष के साथ प्रत्यक्ष ऐसा हो जाए तो उसे कभी भी उस अपमान का जिक्र पत्नी के सामने कभी नहीं करना चाहिए। अंश चाणक्य कहते हैं कि हो सकता है कि पत्नी उस समय आपके लिए संवेदनाएं देखने पर बाद में दुखी या अन्य कारणों से पूरी जिंदगी उसी अपमान को याद करवाकर ताना रहती है।

पूरी कमाई छुपा कर रखें

वैसे तो स्त्री को घर की लक्ष्मी कहा जाता है पर कुछ स्त्रियां खर्चीले स्वभाव की होती हैं। ऐसे में अगर उन्हें पति की कमाई का पता चल जाए तो वह उनके लिए उड़ान भरना शुरू कर देती हैं। फिजूलखर्चे पर रोक लगाने के बजाय वह ज्यादा खर्च करना शुरू कर देंगे। साथ ही साथ आपके ही धन पर खुद का पूरा ही हक समझ जाएगा।

कहते हैं कि एक पुरुष किसी भी महिला को अपनी पत्नी की कमजोरी के बारे में नहीं बताना चाहिए। अंश चाणक्य कहते हैं कि अगर पति की किसी बात को लेकर पति कमजोर हो जाता है तो वह उसका फायदा उठाना शुरू कर देता है। अपनी बातों को मनवाने के लिए वह इसे शस्त्र की तरह प्रयोग करता है।

WhatsApp Group Join Now