Public Haryana News Logo

7वां वेतन आयोग: केंद्रीय कर्मचारियों की लड़ाई, डीए बढ़ोतरी के बाद एचआरए की बारी, 12600 रुपये का लाभ

 | 
7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचार‍ियों की बल्‍ले-बल्‍ले, DA हाइक के बाद HRA की बारी, 12600 रुपये का होगा फायदा
 

जब डीए (Dearness Allowance) 50% हो जाता है, तो हाउस रेंट अलाउंस (HRA) और कुछ अन्य भत्तों में भी बदलाव होता है। यह नियम केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए भी लागू होता है। सरकार ने इस नियम को 1 जनवरी, 2024 से प्रभावी बना दिया है। इससे पहले केंद्र सरकार के कर्मचारियों को अपने वेतन के अनुसार HRA दिया जाता था, लेकिन डीए 50% होने पर यह भत्ता बदल सकता है। इससे संबंधित अधिक जानकारी के लिए, केंद्र सरकार के कर्मचारियों को अपने विभाग या नियुक्त प्रशासक से संपर्क करना चाहिए।

एचआरए (HRA) में बदलाव के लिए कोई आदेश अभी तक नहीं आया है, लेकिन डीए (Dearness Allowance) में बढ़ोतरी होने पर यह संशोधन जल्द ही किया जाएगा। डीओपीटी (DoPT) ने पहले ही भत्तों की ल‍िस्‍ट जारी कर दी है, लेकिन इसे डीए में बढ़ोतरी के बाद संशोधित किया जाएगा।

हालांकि, एचआरए (HRA) में बदलाव को लेकर अभी तक कोई आदेश नहीं आया है। यह सवाल स्थिति को लेकर महत्वपूर्ण है क्योंकि डीए 50% पर पहुंच गया है। इसके अनुसार, सरकार द्वारा एचआरए में कितनी बढ़ोतरी की जाएगी, यह निर्धारित किया जाएगा। इसलिए, केंद्र सरकार द्वारा एचआरए में किए जाने वाले किसी भी बदलाव की जानकारी के लिए आपको आधिकारिक स्रोतों से जानकारी प्राप्त करना चाहिए।

डीए 50% होने पर एचआरए में बदलाव तय
केंद्रीय कर्मचारियों के डीए के 50% पर पहुंचने पर एचआरए में बदलाव तय है. लेक‍िन आपको यह पता होना जरूरी है क‍ि डीए में बदलाव से केंद्रीय कर्मचारियों के एचआरए पर असर शहर की कैटेगरी के ह‍िसाब से पड़ता है. यह शहर वह होता है जहां पर कर्मचारी और उसका पर‍िवार रह रहा है. एचआरए की कैलकुलेशन के ल‍िए शहरों को कुछ चीजों के आधार पर एक्स, वाई और जेड कैटेगरी में बांटा गया है. 7वें वेतन आयोग के अनुसार, 1 जुलाई, 2017 से एचआरए को कैटेगरी X, Y और Z शहर के ल‍िए बेस‍िक सैलरी का क्रमशः 24%, 16% और 8% तक बनाया गया है.

पुरानी दर के ह‍िसाब से एचआरए की गणना
बाद में जब डीए 25% तक पहुंच गया तो एक्स, वाई और जेड शहरों में एचआरए की दर को मूल वेतन के ह‍िसाब से क्रमश: 27%, 18% और 9% तक बदल द‍िया गया. इसलिए यद‍ि क‍िसी कर्मचारी की बेस‍िक पे 35,000 रुपये है तो उसे शहर की कैटेगरी के अनुसार म‍िलने वाला एचआरए इस  प्रकार होगा-

1.) X कैटेगरी के शहरों के ल‍िए 35,000 रुपये का 27% यानी 9,450 रुपये
2.) Y कैटेगरी के शहरों के ल‍िए 35,000 रुपये का 18% यानी 6,300 रुपये
3.) Z कैटेगरी के शहरों के ल‍िए 35,000 रुपये का 9% यानी 3,150 रुपये

इस तरह एक्स कैटेगरी वाले शहर के लिए एचआरए 9,450 रुपये, वाई कैटेगरी वाले शहरों के ल‍िए यह 6,300 रुपये और जेड टाइप स‍िटी के ल‍िए 3,150 रुपये होगा. लेक‍िन अब सातवे वेतन आयोग की सिफारिश के अनुसार डीए के 50% होने पर एचआरए दर एक्स, वाई और जेड कैटेगरी के शहरों के ल‍िए क्रमशः 30%, 20% और 10% तक की जानी चाह‍िए.

नई दर के ह‍िसाब से एचआरए की गणना
अब नए दर के ह‍िसाब से 35,000 रुपये की बेस‍िक पे पर केंद्रीय कर्मचार‍ियों को इस तरह संशोध‍ित एचआरए द‍िया जाएगा. आइए नए दर के अनुसार कैलकुलेशन देखें-


1.) X कैटेगरी के शहरों के ल‍िए 35,000 रुपये का 30% यानी 10,500 रुपये
2.) Y कैटेगरी के शहरों के ल‍िए 35,000 रुपये का 20% यानी 7,000 रुपये
3.) Z कैटेगरी के शहरों के ल‍िए 35,000 रुपये का 10% यानी 3,500 रुपये

सैलरी में क‍ितना फर्क पड़ेगा
इस तरह एक्स टाइप स‍िटी के ल‍िए एचआरए बढ़कर 10,500 रुपये, टाइप वाई के ल‍िए 7,000 रुपये और जेड टाइप स‍िटी मे ल‍िए यह बढ़कर 3,500 रुपये हो जाएगी. यानी एक्‍स टाइप स‍िटी वालों को 1050 रुपये महीने का ज्‍यादा म‍िलेगा. सालाना आधार पर यह 12600 रुपये होता है. इसी तरह वाई कैटेगरी वालों के ल‍िए यह 6,300 रुपये से बढ़कर 7,000 रुपये हो गया. सालाना 8400 रुपये का फर्क आया. इसी तरह जेड कैटेगरी वालों के ल‍िए यह 3,150 से बढ़कर 3,500 रुपये हो गया और सालाना यह 4200 रुपये बढ़ गई.

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here