Public Haryana News Logo

हरियाणा का मौसम अलर्ट : हरियाणा में गर्मी की मार परा 40 डिग्री के पार, जानिए कब मिलेगी गर्मी से राहत

 | 
चौधरी चरणसिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ मदन खीचड़ के अनुसार पश्चिमिविक्षोभ के आंशिक प्रभाव से 16-17 अप्रैल को बीच-बीच में हल्के बादल तथा सतही हवाएं चलने की संभावना है।  परंतु एक और पश्चिमिविक्षोभ के आंशिक प्रभाव से राज्य के ज्यादातर क्षेत्रों में 18 अप्रैल रात्रि से मौसम में बदलाव आने तथा 19-20 अप्रैल को हवाओं व गरजचमक के साथ कहीं कहीं छिटपुट बूंदाबांदी या हल्की बारिश की संभावना है।   देश भर में मौसम प्रणाली  विदर्भ के पूर्वी हिस्सों से तटीय कर्नाटक तक एक ट्रफ रेखा जा रही है।  एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र दक्षिण-पश्चिमी राजस्थान और पाकिस्तान में शामिल होने पर बना हुआ है।  एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ 15 अप्रैल से पश्चिमी हिमालय तक पहुंच सकता है।   पिछले 24 घंटों के दौरान देश भर में हुई मौसमी हलचल  पिछले 24 घंटों के दौरान, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान और उत्तरी कोंकण, मुंबई क्षेत्र के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हुई।  गंगीय पश्चिम बंगाल में कई स्थानों पर असम और मेघालय में कुछ स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य से 3 से 5 डिग्री अधिक रहा।   अगले 24 घंटों के दौरान मौसम की संभावित गतिविधि  अगले 24 घंटों के दौरान, मध्य महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा और मराठवाड़ा के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।  अरुणाचल प्रदेश और दक्षिण गुजरात के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश संभव है।   एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ के दृष्टिकोण के कारण 15 अप्रैल की रात से पश्चिमी हिमालय पर बारिश और गरज के साथ बौछारें शुरू हो सकती हैं।  गंगीय पश्चिम बंगाल और ओडिशा में कुछ स्थानों पर हिट वेव की स्थिति संभव है।
 

Haryana Weather Alert : हरियाणा में गर्मी का दौर शुरू हो चुका है। पिछले तीन चार दिन से तापमान में बढ़ोतरी हो रही है। यदि बात हरियणा के साथ पंजाब की भी की जाये तो यहाँ भी  गर्मी से बुरा हाल है। दोनों प्रदेशों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है। 

सिरसा का अधिकतम तापमान 40.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं, पंजाब के फरीदकोट में 39.6 डिग्री  तापमान रिकॉर्ड किया गया।  मौसम विभाग के अनुसार 17 अप्रैल तक मौसम खुश्क रहने की संभावना है। इस दौरान विशेषकर दिन के तापमान में बढ़ोतरी होने की संभावना है।

चौधरी चरणसिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ मदन खीचड़ के अनुसार पश्चिमिविक्षोभ के आंशिक प्रभाव से 16-17 अप्रैल को बीच-बीच में हल्के बादल तथा सतही हवाएं चलने की संभावना है।परंतु एक और पश्चिमिविक्षोभ के आंशिक प्रभाव से राज्य के ज्यादातर क्षेत्रों में 18 अप्रैल रात्रि से मौसम में बदलाव आने तथा 19-20 अप्रैल को हवाओं व गरजचमक के साथ कहीं कहीं छिटपुट बूंदाबांदी या हल्की बारिश की संभावना है। 

देश भर में मौसम प्रणाली

विदर्भ के पूर्वी हिस्सों से तटीय कर्नाटक तक एक ट्रफ रेखा जा रही है।एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र दक्षिण-पश्चिमी राजस्थान और पाकिस्तान में शामिल होने पर बना हुआ है।एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ 15 अप्रैल से पश्चिमी हिमालय तक पहुंच सकता है।

पिछले 24 घंटों के दौरान देश भर में हुई मौसमी हलचल

पिछले 24 घंटों के दौरान, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान और उत्तरी कोंकण, मुंबई क्षेत्र के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हुई।गंगीय पश्चिम बंगाल में कई स्थानों पर असम और मेघालय में कुछ स्थानों पर अधिकतम तापमान सामान्य से 3 से 5 डिग्री अधिक रहा।

अगले 24 घंटों के दौरान मौसम की संभावित गतिविधि

अगले 24 घंटों के दौरान, मध्य महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा और मराठवाड़ा के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं।अरुणाचल प्रदेश और दक्षिण गुजरात के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश संभव है।एक ताजा पश्चिमी विक्षोभ के दृष्टिकोण के कारण 15 अप्रैल की रात से पश्चिमी हिमालय पर बारिश और गरज के साथ बौछारें शुरू हो सकती हैं।गंगीय पश्चिम बंगाल और ओडिशा में कुछ स्थानों पर हिट वेव की स्थिति संभव है।

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here