Public Haryana News Logo

गुजरात में आया तूफान! उत्तर भारत में आकृति का असर, क्या खास राज्यों में होगी बारिश?

 | 
गुजरात में टकराने लगा तूफान! उत्तर भारत में दिखेगा चक्रवात का असर, जानें किन राज्यों में होगी बारिश?
 मुझे खुशी है कि आपने मौसम से जुड़ी नवीनतम जानकारी साझा की है। चक्रवाती तूफान "बिपरजॉय" गुजरात के कच्छ जिले के पास जखौ बंदरगाह के नजदीक पहुंच गया है और टटकराने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। यह तूफान प्रति घंटा 140 किलोमीटर तक की गति तक जा सकता है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया है कि "चक्रवात के टकराने की प्रक्रिया शुरू हो गई है" और आवागमन के समय इस खतरे के कारण अलर्ट जारी की गई है। मौसम विभाग के महानिदेशक, मृत्युंजय महापात्रा ने बताया है कि "घने संवहनी बादलों के कच्छ और देवभूमि द्वारका जिलों में प्रवेश के बाद चक्रवाती तूफान की टकराव प्रक्रिया शुरू हो गई है। यह पूरी रात तक चलेगी।"

मौसम विभाग के मुताबिक, चक्रवात की वजह से भारी बारिश होगी और ‘खगोलीय ज्वार’ पैदा होने की वजह से लहरें 2-3 मीटर तक ऊंची उठ सकती हैं. चक्रवात की वजह से गुजरात के कच्छ, द्वारका, पोरबंदर, जामनगर और मोरबी जिलों में बाढ़ आ सकती है. 

एहतियातन इन जिलों में एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, सेना और बीएसएफ के जवानों को अलर्ट पर रख गया है. भारी बारिश और बाढ़ की संभावना को देखते हुए 8 जिलों से करीब 1 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. एनडीआरएफ की 15 टीमें, एसडीआरएफ की 12 टीमें राहत एवं बचाव कार्यों के लिए तैनात हैं.

इन राज्यों में दिखेगा असर, होगी बारिश

अगले चार दिनों तक चक्रवात के कारण गुजरात, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और यूपी में बारिश का दौर जारी रह सकता है. हालांकि, दिल्ली में इस चक्रवात के असर की उम्मीद कम है. लेकिन राजधानी में बारिश की संभावना बनी हुई है. मौसम विभाग के मुताबिक चक्रवाती हवाओं की वजह से दिल्ली में अगले चार दिनों तक बारिश का दौर जारी रह सकता है. बिपरजॉय चक्रवात की वजह से मध्य प्रदेश में बिजली गिरने की संभावना है. वहीं, पंजाब, राजस्थान और हरियाणा में तेज हवाओं के साथ बारिश हो सकती है.

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here