Public Haryana News Logo

दिल्ली-एनसीआर में तेज हवा के साथ हो रही बारिश से कई उड़ानें भी प्रभावित हुईं

 | 
Delhi-NCR
 दिल्ली-एनसीआर (Delhi NCR) में शनिवार सुबह आंधी और तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है। मौसम में अचानक बदलाव से उत्तर भारत में पड़ रही भीषण गर्मी की स्थिति से राहत मिलेगी। भारत मौसम विज्ञान विभाग (Indian Metrological Department) ने शनिवार सुबह दिल्ली और इसके आसपास के इलाकों में बारिश और आंधी की भविष्यवाणी की थी।

भारत के मौसम विज्ञान विभाग ने भविष्यवाणी की थी कि दिल्ली, एनसीआर (लोनी देहात, हिंडन एएफ स्टेशन, बहादुरगढ़, गाजियाबाद, इंदिरापुरम, छपरौला, के आस-पास के इलाकों में हल्की से मध्यम तीव्रता वाली बारिश और 40-70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलेंगी। 


वहीं मौसम विभाग ने नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गुरुग्राम, फरीदाबाद, मानेसर, बल्लभगढ़, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, कैथल, नरवाना, करनाल, राजौंद, असंध, सफीदों, बरवाला, पानीपत, आदमपुर, हिसार, गोहाना, गन्नौर, सिवानी, महम, सोनीपत, तोशाम, रोहतक , खरखौदा, भिवानी, चरखी दादरी, झज्जर, लोहारू, फरुखनगर, कोसली, महेंद्रगढ़, सोहाना, रेवाड़ी, पलवल, नारनौल, बावल, नूंह, औरंगाबाद, होडल (हरियाणा) गंगोह, देवबंद, शामली, मुजफ्फरनगर, कांधला, खतौली, बड़ौत, दौराला, बागपत, मेरठ, खेकड़ा, मोदीनगर, किठौर, गढ़मुक्तेश्वर, पिलाखुआ, हापुड़, गुलौटी, सियाना, सिकंदराबाद, बुलंदशहर, जहांगीराबाद, खुर्जा, गभाना, जट्टारी (यूपी) सिद्धमुख, पिलानी, भिवाड़ी, झुंझुनू, तिजारा, खैरथल, कोटपूतली, अलवर, और विराटनगर (राजस्थान) में भी बारिश की भविष्यवाणी की थी।


इसके अलावा मौसम विभाग ने अगले दो से तीन दिनों तक दिल्ली में बारिश की भविष्यवाणी की है और 30 मई तक लू चलने की कोई संभावना नहीं है। IMD ने शुक्रवार को कहा कि जून के महीने में पूरे भारत में बारिश ‘सामान्य से नीचे’ रहेगी, जिससे मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, ओडिशा और उत्तरी भारत जैसे राज्यों में तापमान सामान्य से अधिक रहेगा।

आंधी और तेज हवाओं के साथ हो रही बारिश से फ्लाइट्स भी प्रभावित हुईं हैं। दिल्ली एयरपोर्ट की तरफ से जारी एडवायजरी में यात्रियों को अपनी फ्लाइट से जुड़ी जानकारी लेने की सलाह दी गई है। यात्रियों से कहा गया है कि उड़ान की जानकारी लेने के बाद ही घर से बाहर निकले।

IMD ने शुक्रवार को कहा कि जून के महीने में पूरे भारत में बारिश ‘सामान्य से नीचे’ रहेगी, जिससे मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, ओडिशा और उत्तरी भारत जैसे राज्यों में तापमान सामान्य से अधिक रहेगा। समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए आरके जेनामणि ने कहा, “जून में पूरे भारत में बारिश 92 प्रतिशत से कम होगी, जो सामान्य से कम है। मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, उड़ीसा और उत्तरी भारत जैसे राज्यों में तापमान कम रहने की संभावना है। तापमान के सामान्य से ऊपर रहने की संभावना 70-80 फीसदी है।