Public Haryana News Logo

Cyclone बिपरजॉय से राजस्थान के रेगिस्तान में सैलाब का मंज़र डूबे घर-मकान, अस्पतालों में भरा पानी जानिए पूरी जानकारी

 | 
Cyclone बिपरजॉय से राजस्थान के रेगिस्तान में सैलाब का मंज़र डूबे घर-मकान, अस्पतालों में भरा पानी जानिए पूरी जानकारी
 

गुजरात के बाद चक्रवात बिपरजॉय का सबसे ज्यादा बुरा असर राजस्थान पर नजर आ रहा है. यहां के कई इलाकों में लगातार बारिश हो रही है. भारी बारिश के यहां के चलते नदी-नाले उफान पर हैं. जालोर में लगातार 36 घंटे की बरसात से हालात बिगड़ गए हैं. इसके अलावा सिरोही और बाड़मेर में भी बाढ़ जैसे हालात हैं.

साइक्लोन बिपरजॉय के असर से हुई भीषण बारिश में अजमेर से लेकर पाली तक के इलाके पानी में डूब गए हैं. इस बीच मौसम विभाग (IMD) ने अभी बारिश से राहत नहीं मिलने की संभावना व्यक्त की है. फिलहाल, राहत और बचाव कार्य टीम अति संवेदनशील इलाकों से लोगों को निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा रही है.

जालोर के रानीवाड़ा के सुरावा का बांध टूटने से सांचौर शहर मे पानी घुस आया है. दुकानों में 5 से 6 फीट तक पानी भर गया. वहीं, अजमेर के अस्पतालों में लबालब पानी भरा दिख रहा है.. पाली, जोधपुर, सिरोही में बारिश की वजह से बड़ी बर्बादी हुई है. यहां के कई क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है

उफान पर हैं नदी-नाले

राजस्थान के आपदा एवं राहत सचिव पीसी किशन ने कहा कि बाड़मेर, जालौर और  सिरोही समेत राज्य के कई हिस्सों में अगले 15-20 घंटों में भारी बारिश का भी अलर्ट है. हमारी टीमें अलर्ट पर हैं.  पिंडवाड़ा, आबू रोड और रेवाड़ के कई बांध अब भर चुके हैं. नदी, नाले उफान पर हैं. सिरोही के बतिसा बांध का जलस्तर 315 मीटर है और बांध से पानी छोड़ा जा रहा है.   

59 लोगों को किया गया रेस्क्यू

मौसम विभाग के अनुसार, रविवार को पाली के ऐरण पुरा रोड में 226 मिमी, सिरोही में 155 मिमी, जालौर में 123 मिमी और जोधपुर शहर में 91 मिमी बारिश दर्ज की गई. राज्य आपदा राहत बल (एसडीआरएफ) के कमांडेंट राजकुमार गुप्ता के मुताबिक, जालोर के भीनमाल कस्बे की बाढ़ प्रभावित ओड बस्ती में फंसे 39 नागरिकों को बचाया गया. वहीं, बाड़मेर जिले के धौरीमन्ना शहर के निचले इलाकों में जल-जमाव के कारण घरों में फंसे 20 लोगों को भी रेस्कयू कर सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया.

अब तक 4 लोगों की मौत

बाड़मेर और राजसमंद जिलों में बारिश से जुड़ी दो अलग-अलग घटनाओं में एक महिला समेत चार लोगों की मौत की भी खबरें हैं. बाड़मेर के सेवड़ा थानाध्यक्ष हंसाराम के मुताबिक गंगासरा गांव में रविवार की सुबह दो नाबालिग भाइयों की तालाब में डूबने से मौत हो गई. शवों को बाहर निकाल कर पोस्टमार्टम के बाद उनके परिजनों को सौंप दिया गया. वहीं, राजसमंद पुलिस कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के मुताबिक राजसमंद के बघोटा गांव में प्रेमसिंह राजपूत (45) की जमीन खिसकने और केलवा थाना क्षेत्र की लाली बाई (48) की घर की बालकनी गिरने से मौत हो गई.

पिछले  24 घंटों के दौरान जालोर, सिरोही, बाड़मेर में भारी बारिश

जयपुर मौसम विज्ञान केंद्र के प्रभारी राधेश्याम शर्मा ने कहा कि पिछले 24 घंटों के दौरान जालोर, सिरोही, बाड़मेर और पाली जिलों और राज्य के कई अन्य हिस्सों में भारी से बहुत भारी बारिश रिकॉर्ड की गई है. उन्होंने कहा कि पाली, राजसमंद, अजमेर और उदयपुर जिलों और आसपास के इलाकों में भारी बारिश हो रही है. शर्मा ने बताया कि अगले 24 घंटों के दौरान अजमेर और उदयपुर संभाग के जिलों में छिटपुट स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है.

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here