Public Haryana News Logo

किसानों को मोदी सरकार का एक और तोहफा! ड्रोन के जरिए खेतों में नैनो यूरिया का छिड़काव किया जाएगा

केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा अब इन किसानों को रसायन छिड़काव के लिए ड्रोन की सौगात दी गई है. जिसका इस्तेमाल कर किसान आसानी से और कम लागत में अपने खेतों में रसायनों का छिड़काव कर सकेंगे.बस्ती जनपद में अभी 10 ड्रोन ट्रायल के रुप में दिया गया है. जिसका इस्तेमाल किसान निशुल्क कर रहे हैं.

 | 
Basti, agriculture, kisan news, kisan samachar, kisan yojanan, farmers, farmer news, drone, kisan drone, Modi government, agriculture Basti, Basti agriculture, Basti News, agriculture news, kheti kisani, kheti badi, subsidy, subsidy news

कृष्ण गोपाल द्विवेदी/बस्ती: किसानों की आय को दुगना करने की दिशा में सरकार द्वारा एक और सौगात किसानों को दी गई है. बता दें कि किसानों को अपने खेत में रसायन छिड़काव के लिए परेशान होने की जरूरत नहीं पड़ेगी और न ही उनको अब लेबर की जरूरत पड़ेगी. क्योंकि केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा अब इन किसानों को रसायन छिड़काव के लिए ड्रोन की सौगात दी गई है. जिसका इस्तेमाल कर किसान आसानी से और कम लागत में अपने खेतों में रसायनों का छिड़काव कर सकेंगे.

अभी किसानों को अपने खेतों में रासायनों के छिड़काव के लिए लेबर रखने के साथ ही स्प्रे मशीन की मदद से नैनो यूरिया को खेतों में छिड़कना पड़ता था. जिससे उनका अधिक समय के साथ-साथ पैसे भी ज्यादा लगता था. लेकिन अब ड्रोन के माध्यम से किसान आसानी से और कम लागत में अपने खेतों में रसायनो का छिड़काव कर सकेंगे. जिससे उनका उत्पादन बढ़ने के साथ ही आय में भी वृद्धि होगी. केंद्र सरकार द्वारा बस्ती जनपद में अभी 10 ड्रोन ट्रायल के रुप में दिया गया है. जिसका इस्तेमाल किसान निशुल्क कर रहे हैं.

ड्रोन से होगा खेतों में छिड़काव
ग्राम प्रधान और किसान मेहताब आलम ने बताया कि सरकार की ये योजना हम किसानों के लिए वरदान साबित होगा क्योंकि अब ड्रोन के माध्यम से किसान आसानी से अपने खेतों में रसायनो का छिड़काव कर सकेंगे. इसका सबसे अधिक लाभ यह है की इससे उतने ही रसायन पौधों को मिलेंगे, जितना उनको जरूरत है जिससे पैदावार में भी वृद्धि होगी.

किसानों को मिलेगा लाभ
सांसद बस्ती हरीश द्विवेदी ने बताया कि केन्द्र की मोदी सरकार किसानों के आय को दुगना करने के लिए दृढ़ संकल्पित है. उसी क्रम में ड्रोन के माध्यम से छिड़काव करने से न तो किसानों लेबर की जरूरत पड़ेगी साथ ही उनका समय भी बचेगा.

.

अपने शहर से जुड़ी हर बड़ी-छोटी खबर के लिए

Click Here